• Sanskriti IAS - अखिल मूर्ति के निर्देशन में

स्किंक (Skinks)

  • 11th January, 2022
  • स्किंक, छिपकली की एक प्रजाति है, जो सरीसृप जगत के स्किनकेड परिवार से संबंधित है। यह सामान्यता उष्णकटिबंधीय और समशीतोष्ण क्षेत्रों तथा रेतीले मैदानों में पाई जाती है। पारिस्थितिक तंत्र को बनाए रखने में इनकी प्रमुख भूमिका है।
  • स्किंक प्रजातियों में अंग अत्यधिक छोटे होते हैं या इनका पूरी तरह से अभाव होता है। यह सूक्ष्म अकशेरुकी जीवों तथा विभिन्न कीटों का भोजन के रूप में उपयोग करने के लिये सर्पों के समान तेज़ी से रेंगकर चलती है।
  • भारतीय प्राणी सर्वेक्षण (ZSI) के एक अध्ययन के अनुसार भारत स्किंक की 62 प्रजातियों का घर है। भारत में पाई जाने वाले सभी स्किंक प्रजातियों में से लगभग 57% स्थानिक हैं।
  • इनमें से 24 प्रजातियाँ पश्चिमी घाट में पाई जाती हैं, जिनमें से 18 स्थानिक हैं, जबकि दक्कन प्रायद्वीपीय क्षेत्र में पाई जाने वाली 19 प्रजातियों में से 13 स्थानिक हैं। उत्तर पूर्व में अब तक 14 स्किंक प्रजातियों की पहचान की गई है, जिनमें से दो स्थानिक हैं।
CONNECT WITH US!

X