• Sanskriti IAS - अखिल मूर्ति के निर्देशन में

ज़ेनोप्रत्यारोपण (Xenotransplantation)

  • 15th January, 2022
  • 'ज़ेनोप्रत्यारोपण' विभिन्न प्रजाति के सदस्यों के मध्य अंगों या ऊतकों को ग्राफ्टिंग या प्रत्यारोपित करने की प्रक्रिया है। इसके तहत मनुष्य में पशुओं के ऊतकों या अंगों का प्रत्यारोपण किया जाता है।
  • मनुष्य में अन्य जीवों की कोशिकाओं और ऊतकों का प्रत्यारोपण मधुमेह और न्यूरोडीजेनेरेटिव जैसे रोगों के उपचार में सहायक हो सकता है। इससे मानव अंगों की कम उपलब्धता की समस्या से भी निपटा जा सकता है।
  • हाल ही में यूनिवर्सिटी ऑफ मैरीलैंड स्कूल ऑफ मेडिसिन ने आनुवंशिक रूप से संशोधित सुअर के हृदय को अतालता (Arrhythmia) रोग से ग्रसित एक मनुष्य में सफलतापूर्वक प्रत्यारोपित किया है। यह रोग मानव हृदय की गति को प्रभावित करता है।
  • यदि यह प्रयोग लंबे समय तक संगत पाया जाता है, तो गंभीर रोगों से ग्रस्त रोगियों में अंगों के वैकल्पिक प्रत्यारोपण में मदद मिल सकती है। मनुष्यों में ज़ेनोप्रत्यारोपण का प्रयोग पहली बार 1980 के दशक में किया गया था।
CONNECT WITH US!

X