New
Summer Sale - Upto 50-75% Discount on all Online Courses, Valid: 1-5 June | Call: 9555124124

मेरी माटी मेरा देश अभियान

प्रारंभिक परीक्षा- समसामयिकी
मुख्य परीक्षा- सामान्य अध्ययन, पेपर-1

संदर्भ-

  • देश ने अपनी आजादी के 75 वर्ष पूरे कर लिए हैं और ‘पंच प्राण’ की भावना के साथ अमृत काल की ओर बढ़ने के लिए पूरी तरह तैयार है।

उद्देश्य-

  • इस कार्यक्रम का उद्देश्य एक नए युग की शुरुआत को चिन्हित करने के लिए स्वतंत्रता संग्राम के गुमनाम नायकों और शहीदों को याद करना है।
  • इसके लिए एक राष्ट्रव्यापी अभियान के साथ-साथ प्रधानमंत्री के ‘पंच प्राण’ पर जनता को जागरूक करके अमृत काल के लिए तैयार करना है।
  • देश की प्रत्येक ग्राम पंचायत को कवर करने वाला यह राष्ट्रीय स्तर का अभियान 9 अगस्त से 15 अगस्त,2023 तक नई दिल्ली में प्रस्तावित एक मेगा इवेंट के साथ शीर्ष पर होगा, जिसमें देश भर से 75,000 युवाओं की भागीदारी होगी।
  • सकारात्मकता, देशभक्ति, स्वतंत्रता सेनानियों और शहीदों के प्रति कृतज्ञता के उत्सव का यह माहौल देश की युवा आबादी को अमृत काल के दौरान अपनी युवा शक्ति को जगतगुरु के रूप में ‘इंडिया@2047’ की दिशा में निर्देशित करने के लिए ‘पंच प्राण’ की शपथ लेने के लिए प्रेरित करेगा।

कार्यक्रम का अनुक्रम और विवरण –

1. जिला स्तर के कार्यक्रम-

  • जिला स्तर के कार्यक्रम DYO द्वारा मिट्टी और पानी संग्रह के लिए कंटेनरों और बोतलों की कमीशनिंग जिला स्तर पर कार्यक्रम की शुरुआत से पहले की जाएगी।
  • जिलों की सभी ग्राम पंचायतों से मिट्टी और पानी एकत्र करने के लिए प्रति ब्लॉक दो चैंपियंस (NYV, इच्छुक युवा पुरस्कार विजेता, पुरस्कार विजेता क्लब प्रतिनिधि आदि) की पहचान स्थानीय स्थिति के अनुसार की जाएगी।
  • सभी ब्लॉकों से लाई गई मिट्टी और पानी को जिला स्तरीय कार्यक्रम में समेकित किया जाएगा।
  • स्वतंत्रता सेनानियों और शहीदों के बलिदान की याद में बची हुई मिट्टी के नमूनों का उपयोग करके पौधारोपण किया जाएगा।
  • कार्यक्रम में प्रतिभागियों को ‘पंच प्राण’ की शपथ दिलाई जाएगी।
  • जिला स्तरीय कार्यक्रम में केवल 500 प्रतिभागियों के लिए बजट बनाया गया है। शेष प्रतिभागियों को जिलों में NSS इकाइयों द्वारा जुटाया जाएगा।

2. ब्लॉक स्तरीय कार्यक्रम-

  • ब्लॉक के सभी ग्राम पंचायतों के प्रतिनिधि अपने-अपने पंचायत से मिट्टी और पानी के नमूने लेकर ब्लॉक स्तरीय कार्यक्रम में भाग लेंगे।
  • समारोह के दौरान सभी पंचायतों से लाई गई मिट्टी और पानी को एकत्र किया जाएगा और ब्लॉक का प्रतिनिधि नमूना चैंपियंस को सौंपा जाएगा।
  • कार्यक्रम में स्वतंत्रता संग्राम के गुमनाम नायकों और ब्लॉक के शहीदों की कहानियों को साझा करने के लिए एक सत्र होगा।
  • ब्लॉक स्तरीय कार्यक्रम में केवल 250 प्रतिभागियों के लिए बजट तैयार किया गया है, शेष प्रतिभागियों को NSS, स्थानीय निकायों और स्थानीय स्तर पर अन्य हितधारकों के माध्यम से जुटाया जाएगा।

3. ग्राम पंचायत स्तरीय कार्यक्रम-

  • पहचाने गए चैंपियंस सभी ग्राम पंचायत कार्यालयों का दौरा करेंगे और प्रधानों को कार्यक्रम से अवगत कराएंगे।
  • ग्राम पंचायत प्रधानों के नेतृत्व में पानी और मिट्टी एकत्र करने के लिए स्थल की पहचान की जाएगी।
  • मिट्टी और पानी के नमूनों के साथ ग्राम पंचायत स्तर पर एक बैठक आयोजित की जाएगी, जिसमें स्थानीय स्वतंत्रता संग्राम के नायकों, शहीदों आदि को गांव में स्वतंत्रता संग्राम के इतिहास के साथ याद किया जाएगा।
  • कार्यक्रम के दौरान प्रतिभागियों के बीच ‘पंच प्राण’ की शपथ भी दिलाई जाएगी।
  • ग्राम पंचायत स्तर के कार्यक्रमों के लिए कोई बजट नहीं बनाया गया है।
  • 15 (10NSS +5 NYKS स्वयंसेवकों) की भागीदारी अनिवार्य है, बाकि प्रतिभागियों और संसाधनों का जुटाव स्थानीय माध्यम से होगा।

4. राष्ट्रीय स्तर का आयोजन-

  • राष्ट्रीय स्तर का कार्यक्रम 8-9 अगस्त, 2023 के दौरान 75,000 युवाओं की भागीदारी के साथ आयोजित किया जाना प्रस्तावित है।
  • पारंपरिक वेशभूषा का प्रदर्शन करने के लिए रैली दल - ब्लॉक स्तर तक की विविधता को कैप्चर किया जाएगा।
  • अमृत काल की शुरुआत को चिन्हित करने के लिए प्रस्तावित 75 पौधों का ‘एकता प्रतीक उद्यान’ स्थापित किया जाएगा।
  • प्रतिनिधि द्वारा लाए मिट्टी एवं पानी के प्रयोग से दिल्ली में स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा का निर्माण।
  • 8 अगस्त2023 को 763 जिला मुख्यालयों में एक साथ ‘एकता प्रतीक उद्यान’ का निर्माण।

कार्यक्रम के बाद की गतिविधियाँ -

  • कार्यक्रम के बाद चर्चा और ‘पंच प्राण’ और अमृत काल की भावना को जमीनी स्तर तक ले जाने के लिए निम्नलिखित गतिविधियाँ आयोजित की जाएंगी-

     a. प्रतिभागियों द्वारा जिला और गांवों में स्वागत और अनुभव साझा करना
     b. लौटे प्रतिभागियों के लिए स्थानीय मीडिया कवरेज
     c. विशेष कार्यक्रम- दिल्ली में अनुभव के संबंध में साक्षात्कार एआईआर, डीडी, एफएम
     d. सोशल मीडिया कवरेज पोस्ट इवेंट- पंच प्राण, गुमनाम नायकों और अनुभव साझा करने पर
     e. लौटते हुए युवाओं के नेतृत्व में श्रमदान एवं अन्य स्वैच्छिक गतिविधियाँ

सहभागी मंत्रालय-

     1. युवा मामले और खेल मंत्रालय - नोडल मंत्रालय
     2. सूचना और प्रसारण मंत्रालय - ब्रांडिंग, प्रोमो संगीत, बज़ निर्माण, आईईसी गतिविधि, कार्यक्रम कवरेज
     3. गृह मंत्रालय - सामान्य कानून और व्यवस्था और सुचारू संचालन के लिए
     4. पंचायती राज मंत्रालय - ग्राम पंचायत कार्यों के आयोजन में मदद करने के लिए
     5. ग्रामीण विकास मंत्रालय - भागीदारी के लिए स्वयं सहायता समूहों को जुटाने के लिए
     6. वन, पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय - देश भर में पौधारोपण और एकता प्रतीक उद्यान
     7. रेल मंत्रालय- प्रतिभागियों के लिए यात्रा और रसद
     8. कपड़ा मंत्रालय- मिट्टी संग्रह के लिए जूट बैग/पोटली के आयोजन में मदद करने के लिए
     9. शिक्षा मंत्रालय- सूचना का प्रसार और स्वयंसेवकों को संगठित करना
     10. विदेश मंत्रालय- मेरी माटी मेरा देश के लिए अंतर्राष्ट्रीय आउटरीच
     11. जल शक्ति मंत्रालय- पेयजल और स्वच्छता विभाग
     12. स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय
     13. डाक और दूरसंचार मंत्रालय

पंच प्राण-

     15 अगस्त 2022 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अगले 25 वर्षों में भारत को एक विकसित राष्ट्र में बदलने के लिए ‘पंच प्राण’ (पांच संकल्प) निर्धारित किए। ये हैं-

     1. विकसित भारत के बड़े संकल्प के साथ आगे बढ़ें
     2. गुलामी के सभी निशान मिटा दें
     3. भारत की विरासत पर गर्व करें
     4. एकता की ताकत
     5. प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री सहित नागरिकों के कर्तव्य

  • पीएम मोदी के अनुसार, ये पांच संकल्प एक विकसित देश के लिए महत्वपूर्ण होंगे जब देश 2047 में स्वतंत्रता के 100 साल पूरे करेगा।
  • इन पांच संकल्पों में पीएम का ‘विश्वगुरु भारत’ का सपना भी शामिल है।
  • आजादी के 100 साल पूरे होने पर पीएम मोदी भारत को “विश्वगुरु” बनाना चाहते हैं।

प्रारंभिक परीक्षा के लिए प्रश्न-

प्रश्न- प्रधानमंत्री द्वारा 75 स्वतंत्रता दिवस पर घोषित ‘पंच प्राण’ में शामिल नहीं है?

(a) गुलामी के सभी निशान मिटा दें
(b) भारत की विरासत पर गर्व करें
(c) पौधारोपण
(d) एकता की ताकत

उत्तर – (c)

मुख्य परीक्षा के लिए प्रश्न-

प्रश्न- मेरी माटी मेरा देश अभियान किस प्रकार स्वतंत्रता संग्राम के गुमनाम नायकों और शहीदों को याद करने में सहायक होगा ?विवेचना ।

Have any Query?

Our support team will be happy to assist you!

OR