• Sanskriti IAS - अखिल मूर्ति के निर्देशन में
7428 085 757
(Contact Number)
9555 124 124
(Missed Call Number)

Sanskriti Mains Mission: GS Paper - 3

यद्यपि क्रिस्पर कैस-9 (CRISPR Cas-9) तकनीक विभिन्न अनुवांशिक एवं असाध्य रोगों के उपचार हेतु वरदान है, किंतु इसके साथ अनेक सामाजिक और नैतिक मुद्दे भी जुड़े हैं। विवेचना कीजिये। (250 शब्द) 

17-Oct-2020 | GS Paper - 3

Solutions:

उत्तर-प्रारूप

भूमिका (50 शब्द)

  • जीनोम एडिटिंग तकनीक में क्रिस्पर कैस-9 द्वारा डी.एन.ए. अनुक्रम में परिवर्तन की क्षमता का वर्णन करें।

मुख्य भाग (150 शब्द)

  • इस तकनीक के अनुप्रयोगों जैसे- भ्रूण अवस्था में जीनोम एडिटिंग से अनुवांशिक रोगों को संतान में जाने से रोकना, कैंसर, एच.आई.वी. और सिकल सेल जैसे रोगों का जीन एडिटिंग से उपचार, टी- कोशिकाओं में वृद्धि कर शरीर के प्रतिरक्षा तंत्र को सुदृढ़ करना तथा डिज़ाइनर बेबी की परिकल्पना के तहत उच्च बौद्धिक एवं शरीरिक क्षमता वाली संतान के जन्म को सम्भव बनाना इत्यादि का उल्लेख करें।
  • सामाजिक व नैतिक मुद्दों जैसे- डिज़ाइनर बेबी की संकल्पना को बल मिलेगा, इसके उपयोग उपयोग को बढ़ावा तथा तकनीक का लाभ केवल सम्पन्न वर्ग तक रहने से सामाजिक विभेद में वृद्धि आदि की चर्चा करें।

निष्कर्ष (50 शब्द )

  • जीन एडिटिंग का पर्याप्त शोध व अनुसंधान के बाद उपयोग, अनुवांशिक व असाध्य रोगों के उपचार में उपयोग और डिज़ाइनर बेबी संकल्पना को हतोत्साहित करना इत्यादि का उल्लेख करते हुए निष्कर्ष लिखें।
« »
  • SUN
  • MON
  • TUE
  • WED
  • THU
  • FRI
  • SAT
CONNECT WITH US!