• Sanskriti IAS - अखिल मूर्ति के निर्देशन में
7428 085 757
(Contact Number)
9555 124 124
(Missed Call Number)

Sanskriti Mains Mission: GS Paper - 1

200 ई. पू. से 300 ईसवी के मध्य जो भी विदेशी भारत के सम्पर्क में आया, उसका भारतीयकरण हो गया। चर्चा कीजिये। (250 शब्द)

21-Oct-2020 | GS Paper - 1

Solutions:

उत्तर प्रारूप :

भूमिका– (35-40 शब्द)

  • मौर्योत्तरकालीन विदेशी शासकों व उनके द्वारा शासित क्षेत्रों का परिचय दें।

मुख्य भाग– (165-170 शब्द)

  • इन विदेशी शासकों द्वारा अपनाई गई उन प्रवृत्तियों का उल्लेख करें, जो इनके भारतीय परिवेश में रचने-बसने की ओर इशारा करती हैं, जैसे– धर्म, जाति-व्यवस्था में समावेशन, शासकों का नाम इत्यादि।
  • भारतीयता से प्रभावित होने वाले गैर-शासक विदेशियों का भी उल्लेख करें, जैसे– हेलियोडोरस।
  • साथ ही, उत्तर में लिखी गई प्रत्येक ऐतिहासिक घटना का पुरातात्विक या साहित्यिक प्रमाण भी दें।

निष्कर्ष– (35-40 शब्द)

  • अंत में, इन विदेशियों के भारतीयकरण व भारतीय जनता पर इनके प्रभाव को, जो वर्तमान समय तक भी परिलक्षित होता है, स्पष्ट करें।
« »
  • SUN
  • MON
  • TUE
  • WED
  • THU
  • FRI
  • SAT
CONNECT WITH US!