• Sanskriti IAS - अखिल मूर्ति के निर्देशन में

IMPORTANT TERMINOLOGY

  • Home
  • IMPORTANT TERMINOLOGY

1. समायोजित सकल राजस्व (Adjusted Gross Revenue)

01-Oct-2021

यह दूरसंचार कंपनियों द्वारा लाइसेंस तथा आवंटित स्पेक्ट्रम के उपयोग हेतु सरकार को दिया जाने वाला शुल्क है। इसमें दूरसंचार कंपनियों द्वारा सभी स्रोतों से प्राप्त आय की गणना की जाती है।

2. मर्चेंट बैंकर्स (Merchant bankers)

30-Sep-2021

ऐसे बैंक या वित्तीय संस्थान जो कंपनियों को परामर्श देने के साथ-साथ स्टॉक एवं बॉण्ड की खरीद-बिक्री के माध्यम से उनकी ऋण आवश्यकताओं का प्रबंधन करते हैं। इन्हें ‘निवेश बैंकर्स’ (Investment bankers) के नाम से भी जाना जाता है।

3. लास्य

29-Sep-2021

भारतीय शास्त्रीय नृत्य के दो आधारभूत स्वरूप हैं- एक तांडव और दूसरा लास्य। तांडव भगवान शिव के रौद्र रूप का प्रतिनिधित्व करता है, जबकि लास्य शिव की पत्नी पार्वती के लयात्मक लावण्य का प्रतिनिधित्व करता है। नारी अभिमुखताओं के प्रतीक स्वरूप इसकी प्रकृति लालित्यपूर्ण, सुकुमार और कोमल होती है। प्रमुख शास्त्रीय नृत्य भरतनाट्यम् लास्य-प्रधान, जबकि कथकली तांडव-प्रधान नृत्य है। कथक नृत्य लास्य व तांडव दोनों का मिश्रण है।

4. जियोटैगिंग (Geotagging)

12-Jun-2021

जियोटैगिंग मेटाडेटा के रूप में विभिन्न मिडिया क्षेत्र (फोटोग्राफ, वीडिओ, वेबसाइट, एसएमएस संदेश, क्यूआर कोड इत्यादि) में भौगोलिक जानकारी जोड़ने की प्रक्रिया है । इसमें अक्षांश एवं देशांतर जैसे निर्देशांक होते हैं। हालाँकि इनमे ऊँचाई, दूरी एवं स्थान के नाम को भी सम्मिलित किया जा सकता है। यह किसी डिवाइस के माध्यम से उपयोगकर्ताओं को किसी स्थान विशेष की जानकारी प्रदान करने में सहायक होते है।

5. मेटाडेटा (Metadata)

11-Jun-2021

यह एक प्रकार से आँकड़ों का सारांश अथवा संक्षिप्त रूप होता है। मेटाडेटा विभिन्न आँकड़ों को संदर्भित करने वाला डाटा होता है जो किसी वेबपेज, फाइल या दस्तावेज में निहित होता है। यह किसी अन्य डेटा के बारे में आधारभूत/बुनियादी जानकारी प्रदान करता है। इससे किसी डेटा के संबंध में विशेष जानकारी प्राप्त करना एवं कार्य करना सरल हो जाता है। इसका उपयोग सूचना प्रणाली, सोशल मीडिया, वेबसाइटों, सॉफ्टवेयर, संगीत सेवाओं, ऑनलाइन रिटेलिंग आदि में किया जाता है।

6. ब्लडमून (Blood Moon)

09-Jun-2021

यह दुर्लभ खगोलीय परिघटना पूर्ण चंद्रग्रहण के दौरान होती है। जब सूर्य, पृथ्वी और चंद्रमा अपनी कक्षा में एक सीध में होते हैं और चंद्रमा पृथ्वी की छाया में होता है तब चंद्रमा पर अंधेरा छा जाता है। किंतु, सूर्योदय और सूर्यास्त के समय पृथ्वी पर पहुँचने वाली थोड़ी सी धूप चंद्रमा पर पड़ती है और इस दौरान सभी सात VIBGYOR रंगों में सबसे लंबी तरंगदैर्ध्य होने के कारण लाल प्रकाश पृथ्वी के वातावरण से होकर गुजरता है और चंद्रमा की ओर मुड़ जाता है। परावर्तन के नियम के अनुसार, लाल रंग सबसे पहले चंद्रमा तक पहुँचता है और टकरा कर हमारी आँखों तक आता है। फलतः चंद्रमा पूरी तरह नारंगी, लाल या सुर्ख भूरे रंग का दिखाई देता है। इसे ही ब्लड मून की संज्ञा दी जाती है।

7. सुपरमून (Supermoon)

05-Jun-2021

जब चंद्रमा अपनी कक्षा में पृथ्वी के सर्वाधिक नजदीक और साथ ही अपने पूर्ण आकार में होता है, तब इस खगोलीय घटना को ‘सुपर मून’ कहा जाता है। इस दौरान पृथ्वी के सर्वाधिक करीब होने के कारण चंद्रमा अपने सामान्य आकार से लगभग 14 फीसदी बड़ा और 30 फीसदी अधिक चमकीला दिखाई पड़ता है।

8. इन्फ्लुएंसर मार्केटिंग (Influencer Marketing)

04-Jun-2021

इन्फ्लुएंसर मार्केटिंग सोशल मीडिया मार्केटिंग का एक रूप है जिसमें अपने क्षेत्र के विशेषज्ञ या सामाजिक प्रभाव वाले प्रभावशाली लोगों एवं संगठनों के समर्थन से उत्पादों का विज्ञापन और बिक्री शामिल है। इन्फ्लुएंसर मार्केटिंग एक सतत प्रक्रिया है, इसके अंतर्गत मार्केटिंग मिक्स की योजना का निर्माण एवं कार्यान्वयन किया जाता है। इसका उद्देश्य लोगों और संगठनों के बीच उत्पादों, सेवाओं अथवा विचारों का विनिमय करना है।

इन्फ्लुएंसर वह व्यक्ति होता है जिसके पास इंस्टाग्राम, यूट्यूब, स्नैपचैट या अन्य ऑनलाइन चैनलों जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर मूल अथवा प्रायोजित-सामग्री के किसी न किसी रूप को अपलोड करके दूसरों की खरीदारी की आदतों या परिमाण निर्धारण संबंधी योग्यता को प्रभावित करने की क्षमता होती है।

9. रुल कर्व’ (rule curve)

03-Jun-2021

यह किसी भी बाँध के ‘मुख्य सुरक्षा’ तंत्र का भाग होता है जो बाँध के जलाशय में उतार-चढ़ाव के स्तर को निर्धारित करता है। बाँध के शटर को खोलने का कार्यक्रम ‘रुल कर्व’ पर आधारित होता है। रुल कर्व स्तर का निर्धारण बाढ़ जैसी आपात स्थिति में डैम शटर को खोलने से बचने हेतु किया जाता है।

10. परक्राम्य भांडागारण रसीद ( Negotiable Warehouse Receipt )

02-Jun-2021

परक्राम्य भांडागारण रसीद पंजीकृत गोदामों द्वारा जारी की जाती है। इसके आधार पर किसानों को बैंको से ऋण प्राप्त करने में आसानी होती है। यह शीर्ष विपणन मौसम में किसानों को संकटकाल की स्थिति में विवशतावश फसल की बिक्री से सुरक्षा प्रदान करती है। इसे वर्ष 2011 में लॉन्च किया गया था।
भांडागारण (विकास और विनियमन) अधिनियम, 2007 के तहत अक्टूबर 2010 में गठित भांडागारण विकास और विनियमन प्राधिकरण (डब्ल्यू.डी.आर.ए.) द्वारा इसका विनियमन किया जाता है।
« »
  • SUN
  • MON
  • TUE
  • WED
  • THU
  • FRI
  • SAT
CONNECT WITH US!

X