• Sanskriti IAS - अखिल मूर्ति के निर्देशन में

आर्कटिक वार्मिंग 

News Articles 01-Sep-2022

हाल ही में, फिनलैंड के ‘फिनिश (Finnish) मौसम विज्ञान संस्थान’ के शोधों के अनुसार, आर्कटिक क्षेत्र पृथ्वी के अन्य भागों की अपेक्षा चार गुना तेजी से गर्म हो रहा है। उष्णता की यह दर आर्कटिक के यूरेशियन भाग में अधिक केंद्रित है, जहाँ रूस और नॉर्वे के उत्तर में बैरेंट्स सागर अत्यधिक तेजी से गर्म हो रहा है, जो वैश्विक औसत से सात गुना अधिक है। 

ध्रुवीय प्रवर्धन (Polar Amplification)

PT Cards 18-Aug-2022

जलवायु परिवर्तन से ध्रुवीय क्षेत्र में ग्रीनहाउस गैसों के संकेंद्रण के कारण विश्व के शेष हिस्सों की तुलना में ध्रुवों पर अधिक तापीय परिवर्तन होता है, इस परिघटना को ‘ध्रुवीय प्रवर्धन’ कहा जाता है।

नई ई-कचरा प्रबंधन नीति 

News Articles 11-Aug-2022

भारत में ई-कचरे को विनियमित करने के लिये केंद्र सरकार ने एक रूपरेखा प्रस्तावित की है। इससे इलेक्ट्रॉनिक कचरा संग्रह करने की वर्तमान प्रणाली में परिवर्तन के साथ-साथ कई लोगों का रोजगार प्रभावित होने की संभावना है।

वाहनों के बढ़ते उत्सर्जन से हिमनदों का ह्रास

News Articles 05-Aug-2022

हाल ही में, पश्चिमी हिमालय के द्रास बेसिन के हिमनदों (Glaciers) में होने वाली कमी को ‘एन्वार्मेंटल साइंस एंड पॉल्यूशन रिसर्च’ नामक पत्रिका में प्रकाशित किया गया है। यह हिमालय के ग्लेशियरों के लिये गंभीर खतरे का संकेत है।

भारत की आर्कटिक नीति 

News Articles 20-Apr-2022

हाल ही में, भारत ने जलवायु परिवर्तन से निपटने तथा पर्यावरण की रक्षा करने के उद्देश्य से नई आर्कटिक नीति का अनावरण किया है। नीति का शीर्षक ‘भारत और आर्कटिक: सतत विकास के लिये साझेदारी का निर्माण’ है। 

शहरी कृषि और संबंधित पक्ष

News Articles 15-Apr-2022

‘शहरी कृषि’ नगरीय और उपनगरीय क्षेत्रों में कृषि की एक पद्धति है। कृषि वृहत् रूप से खाद्य एवं गैर-खाद्य उत्पादों की एक विस्तृत शृंखला को दर्शाती है, जिन्हें उगाया या खेती की जा सकती है, जिसमें पशुपालन, जलीय कृषि और मधुमक्खी पालन भी शामिल हैं। हालाँकि, भारतीय शहरों के परिप्रेक्ष्य में ये पूरी तरह से मानव उपभोग के लिये सब्जियों, फलों और फूलों की कृषि पर ही केंद्रित हैं।

अंतर्राष्ट्रीय खाद्य संकट और भारत की प्रतिक्रिया

News Articles 11-Apr-2022

जलवायु संकट, कोविड-19 महामारी, गरीबी और असमानता से प्रेरित वैश्विक भुखमरी बढ़ रही है। लाखों लोग भुखमरी का शिकार हैं और कई लोगों के पास पर्याप्त भोजन की उपलब्धता नहीं है। 

जल- प्रबंधन के लिये जल-सामाजिक दृष्टिकोण 

News Articles 15-Mar-2022

वैश्विक जल प्रणाली परियोजना (Global Water System Project) ने स्वच्छ जल के मानव-जनित परिवर्तन और पृथ्वी प्रणाली तथा समाज पर उसके प्रभाव को लेकर वैश्विक चिंता व्यक्त की है। वर्तमान में मीठे पानी के संसाधन बहुत दबाव में हैं, जिसका प्रमुख कारण विभिन्न मानवीय गतिविधियाँ हैं।

वनसंपदा एवं वन्यजीवों का संरक्षण

News Articles 12-Mar-2022

हाल ही में जारी ‘वन स्थिति रिपोर्ट’ तथा जलवायु परिवर्तन से संबंधित अंतर-सरकारी पैनल की रिपोर्ट के विश्लेषण के आधार पर यह निष्कर्ष निकाला गया है कि वन संपदा की क्षति के कारण मानव जीवन पर घातक प्रभाव हो सकते हैं। 

जलवायु परिवर्तन पर आई.पी.सी.सी. की रिपोर्ट

News Articles 08-Mar-2022

हाल ही में, ‘जलवायु परिवर्तन पर अंतर-सरकारी पैनल’ (IPCC) ने ‘जलवायु परिवर्तन 2022 : प्रभाव, अनुकूलन और संवेदनशीलता’ (Climate Change 2022: Impacts, Adaptation and Vulnerability) नामक रिपोर्ट जारी की है। ध्यातव्य है कि आई.पी.सी.सी. को जलवायु वैज्ञानिकों की वैश्विक संस्था माना जाता है।

« »
  • SUN
  • MON
  • TUE
  • WED
  • THU
  • FRI
  • SAT
CONNECT WITH US!

X