• Sanskriti IAS - अखिल मूर्ति के निर्देशन में

शॉर्ट न्यूज़

शॉर्ट न्यूज़: 18 जून, 2022


पर्यावरण प्रदर्शन सूचकांक 2022

क्यू.एस. वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग, 2023

आई2यू2


पर्यावरण प्रदर्शन सूचकांक 2022

चर्चा में क्यों

हाल ही में, पर्यावरण प्रदर्शन सूचकांक 2022 में भारत को 180 देशों की सूची में अंतिम स्थान दिया गया है। 

प्रमुख बिंदु

  • इस सूचकांक को येल पर्यावरण कानून व नीति केंद्र तथा अंतर्राष्ट्रीय पृथ्वी विज्ञान सूचना नेटवर्क केंद्र, कोलंबिया विश्वविद्यालय द्वारा जारी किया गया है।
  • इसमें शीर्ष तीन स्थान पर क्रमशः डेनमार्क, यूनाइटेड किंगडम और फ़िनलैंड को रखा गया है।
  • सूचकांक में भारत के पश्चात् अंतिम स्थान पर क्रमशः म्यांमार, वियतनाम, बांग्लादेश एवं पाकिस्तान को रखा गया है। 
  • इस सूचकांक में 11 श्रेणियों में 40 प्रदर्शन संकेतकों का उपयोग करते हुए जलवायु परिवर्तन प्रदर्शन, पर्यावरणीय स्वास्थ्य और पारिस्थितिकी तंत्र की स्थिति के आधार पर अंक प्रदान किया गया है।
  • इसमें देशों को सबसे खराब से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिये 0-100 के पैमाने पर रखा गया हैं।

क्यू.एस. वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग, 2023

चर्चा में क्यों

हाल ही में जारी क्यू.एस. वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग, 2023 में 41 भारतीय विश्वविद्यालयों ने स्थान प्राप्त किया है।

प्रमुख बिंदु

  • सर्वश्रेष्ठ भारतीय संस्थान इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस (IISc), बेंगलुरु है, जो विश्व स्तर पर 155वें स्थान पर है। यह सबसे तेजी से उभरता हुआ दक्षिण एशियाई विश्वविद्यालय भी है। 
  • इस रैंकिंग में आई.आई.एस.सी. बेंगलुरु के पश्चात् आई.आई.टी. बॉम्बे और आई.आई.टी. दिल्ली ने क्रमश: 172वां  एवं 174वां स्थान प्राप्त किया है।
  • ओ.पी. जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी भारतीय विश्वविद्यालयों में लगातार तीसरे साल सर्वोच्च रैंक प्राप्त करने वाला निजी विश्वविद्यालय है।
  • लंदन स्थित वैश्विक उच्च शिक्षा विश्लेषक क्वाक्वेरेली साइमंड्स (क्यू.एस.) ने दुनिया की सबसे अधिक परामर्शी अंतर्राष्ट्रीय विश्वविद्यालय रैंकिंग का 19वां संस्करण जारी किया है।
  • इस रैंकिंग में शीर्ष तीन स्थान क्रमशः एम.आई.टी. (अमेरिका), कैंब्रिज विश्वविद्यालय (यूनाइटेड किंगडम) एवं स्टेनफोर्ड विश्वविद्यालय (अमेरिका) को प्राप्त हुआ है।

आई2यू2

चर्चा में क्यों

हाल ही में, अमेरिका की घोषणा के अनुसार, वह भारत, इजरायल और संयुक्त अरब अमीरात के साथ चार देशों की एक नई संवाद वार्ता प्रारंभ करेगा। इसे पश्चिम एशिया का क्वाड समूह कहा जा रहा है।

प्रमुख बिंदु 

  • इस समूह को ‘I2U2’ कहा जाएगा। इसमें ‘I’ शब्द भारत (India) व इज़राइल (Israel) के लिये प्रयुक्त किया जा रहा है, जबकि ‘U’ शब्द संयुक्त राज्य अमेरिका व संयुक्त अरब अमीरात के लिये प्रयुक्त किया जा रहा है।
  • यह समूह मुख्यत: पश्चिम एशिया क्षेत्र पर केंद्रित होगा। इसे राष्ट्रपति के रूप में जो बाइडेन की पहली पश्चिम एशिया यात्रा के दौरान लांच किया जाएगा।
  • यह समूह मध्य-पूर्व और एशिया में आर्थिक व राजनीतिक सहयोग के विस्तार पर केंद्रित है, जिसमें व्यापार, जलवायु परिवर्तन का मुकाबला, ऊर्जा सहयोग एवं अन्य महत्वपूर्ण साझा हितों पर समन्वय शामिल है।

CONNECT WITH US!

X