New
UPSC Prelims 2024 Answer Key with Detailed Solution

विदेशी अंशदान विनियमन अधिनियम (FCRA)

प्रारंभिक परीक्षा – स्वावलंबन 2.0
मुख्य परीक्षा- सामान्य अध्ययन, पेपर-

चर्चा में क्यों

विदेशी अंशदान विनियमन अधिनियम (FCRA) के तहत पंजीकृत गैर-सरकारी संगठनों (एनजीओ) को अब विदेशी धन का इस्तेमाल कर बनाई गई चल और अचल संपत्तियों का विवरण देना होगा।

प्रमुख बिंदु 

  • गृह मंत्रालय (एमएचए) ने 25 सितंबर 2023  को एक अधिसूचना जारी कर विदेशी धन प्राप्त करने वाले एनजीओ के लिए बने नियमों में संशोधन किया
  • इसके  बाद प्रत्येक वित्तीय वर्ष के अंत (31 मार्च) तक एनजीओ के लिए संपत्ति की घोषणा करना अनिवार्य हो गया है।
  • इस कानून के मुताबिक विदेशी धन प्राप्त करने वाले सभी एनजीओ को अब एफसीआरए के तहत पंजीकृत होना होगा। 
  • गृह मंत्रालय ने विदेशी अंशदान विनियमन नियम 2010 के फॉर्म एफसी-4 में दो खंड जोड़कर बदलाव किए हैं।
  • इन संशोधनों में विदेशी धन से बनाई गई चल संपत्तियों का विवरण (वित्तीय वर्ष में 31 मार्च तक) और विदेशी धन के इस्तेमाल से बनाई गई अचल संपत्तियों का विवरण (वित्तीय वर्ष में 31 मार्च को) शामिल है।
  • फॉर्म एफसी-4 को वे सभी गैर-सरकारी संगठन और संघ भरते हैं, जिन्हें एफसीआरए लाइसेंस दिया जाता है, ताकि वे अपना वार्षिक लेखा-जोखा दाखिल कर सकें।
  • गृह मंत्रालय ने उन सभी संस्थाओं के एफसीआरए लाइसेंस की वैधता को 31 मार्च 2024 तक बढ़ाने का फैसला किया है, जिनके लाइसेंस 30 सितंबर को समाप्त हो रहे हैं या फिर उनका नवीनीकरण लंबित है।

  विदेशी अंशदान विनियमन अधिनियम (Foreign Contribution (Regulation) Act) के बारे में -

fcra

  • FCRA विदेशी दान को नियंत्रित करता है
  • यह सुनिश्चित करता है कि ऐसे विदेशी दान आंतरिक सुरक्षा के लिए  प्रतिकूल तो नहीं हैं।
  • पहली बार 1976 में FCRA को  अधिनियमित किया गया था एवं  यह 2010 में संशोधित किया गया था।
  • FCRA सभी संघों, समूहों और गैर सरकारी संगठनों पर लागू होता है, जो विदेशी दान प्राप्त करते हैं।
  • ऐसे सभी गैर-सरकारी संगठनों के लिए एफसीआरए के तहत खुद को पंजीकृत करना अनिवार्य है।

प्रश्न:  निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए 

  1. पहली बार 1979 में FCRA को  अधिनियमित किया गया था एवं यह 2010 में संशोधित किया गया था।
  2. ऐसे सभी गैर-सरकारी संगठनों के लिए FCRA के तहत खुद को पंजीकृत करना अनिवार्य है।

उपर्युक्त में से कितने कथन सही हैं ?

 (a) केवल 1  

(b) केवल 2  

(c) कथन 1 और 2 

(d) न तो 1 ना ही 2 

उत्तर: (b)

मुख्य परीक्षा प्रश्न : स्वेदशीकरण  'स्वावलंबन' क्या है? 'स्वावलंबन' किस प्रकार    स्वेदशीकरण एवं आत्मनिर्भरता को बढ़ावा दे सकता है?  चर्चा कीजिए।

स्रोत: टीओआई

Have any Query?

Our support team will be happy to assist you!

OR